WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
previous arrow
next arrow
Uncategorized

पत्नी ने ही अपने प्रेमी को बुलाकर करा दी पति ही हत्या,पुलिस ने 24 घंटे में ही अपराधी को धर दबोचा।

कोरबा (आई.बी.एन -२४) दिनांक 14.06.2023 को जगत राम पिता चेतराम कोसले उम्र 46 वर्ष सा. अमाडांड़ चौकी रजगामार आकर लिखित सूचना दर्ज कराया कि इसका मेरा मंझला भाई बसंत कुमार कोसले कल दिनांक 13.06.2023 के शाम करीब 06:30 बजे बच्चों के लिए चिकन चिल्ली लेने के लिए ओमपुर की तरफ जा रहा हूं कह कर अपनी मोटरसाइकिल से घर से निकला था जो देर रात तक वापस घर नहीं आया जिसके बाद रात से ही हम भाई को ढूंढ रहे थे पर कुछ भी पता नहीं चला।

आज दिनांक 14.06.2023 के सुबह करीब 8:30 बजे ओमपुर क्वार्टर स्कूल के सामने जंगल में किसी की संदिग्ध हालत में शव मिलने की सूचना पर हमने जाकर देखा तो अपने भाई को संदिग्ध हालत में मृत पाया।

रिपोर्ट पर चौकी रजगामार पुलिस ने तत्काल घटना की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को दे अपराध धारा 302 भादवि के पंजीबद्ध कर मामला को विवेचना में लिया।

घटना की जानकारी होते ही पुलिस अधीक्षक कोरबा यू.उदय किरण द्वारा मामले को गंभीरता से लेते हुये तत्काल अति० पुलिस अधीक्षक कोरबा अभिषेक वर्मा, नगर पुलिस अधीक्षक कोरबा विश्वदीप त्रिपाठी के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी बालको/ साइबर सेल कोरबा निरीक्षक सनत सोनवानी एवं चौकी प्रभारी रजगामार अजय सिंह के नेतृत्व में टीम गठित कर तत्काल घटना स्थल रजगामार ओमपुर भेजा गया जो पुलिस टीम के द्वारा मौके पर सायबर सेल कोरबा, फोरेंसिक टीम, डॉग स्क्वाड टीम के साथ घटना स्थल का निरीक्षण किया गया जो घटना स्थल निरीक्षण किया गया मृतक बसंत कुमार कोसले की पत्नि सनिता कोसले से पूछताछ पर वह बार बार बयान बदलकर पुलिस को गुमराह करने की कोशिश करने लगी जिसे पुलिस टीम द्वारा कड़ाई से पूछताछ पर सनिता कोसले अपने प्रेमी साथी के साथ मिलकर अपने पति बसंत कुमार कोसले की षडयंत्र पूर्वक हत्या को अंजाम देना स्वीकार कर ली।

सनिता कोसले के बताए अनुसार मृतक एनटीपीसी सीपत में काम के लिए गया था वहां पर एक किराए के मकान में अपने परिवार के साथ रहता था तभी वहां दर्राभाठा में रहने वाला दिनेश सोनवानी नामक व्यक्ति से जान पहचान एवं मित्रता हो गई थी, इसी वजह से पहचान होने के कारण वह मृतक के निवास स्थान ओमपुर अमाडांड़ मे भी आना जाना था। इसी बीच मृतक के पत्नी सनिता कोसले से उसका प्रेम संबंध हो गया इस वजह से दोनों प्रेमी एक साथ रहने के लिए सनिता कोसले ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति की हत्या का प्लानिंग किया जिसे दिनांक 13/06/2023 को सनिता कोसले ने अपने प्रेमी दिनेश सोनवानी को फोन से संपर्क कर के अमाडांड़ रजगामार बुलाया और अपने पति की हत्या की कहानी रची।

उसके पश्चात पुलिस टीम ने दिनेश सोनवानी को पकड़ लाई और कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने बताया कि आरोपी दिनेश सोनवानी अपने साथी सिकंदर शाह के साथ दर्राभाटा सीपत से अपने दोस्त का मोटरसाइकिल हीरो स्प्लेंडर प्लस लेकर रजगामार आया और मृतक की पत्नी सनिता कोसले को फोन कर बसंत कोसले को शराब दुकान रजगामार ओमपुर के पास भेजने को कहा। मृतक की पत्नी ने मृतक बसंत कुमार कोसले को बच्चों के लिए चिकन चिल्ली लेने के लिए भेजा वहां पर आरोपी दिनेश सोनवानी से उसका मुलाकात हुआ रजगामार शराब दुकान से उन लोगों ने शराब खरीद कर ओमपुर जंगल मे जाकर शराब पिए और उस जगह पर आरोपी दिनेश सोनवानी ने अपने साथी सिकंदर शाह के साथ मिलकर मृतक बसंत कुमार कोसले के गले में गमछा से उसका गला घोट कर मार दिया । घटना में प्रयुक्त गमछा व मोटरसाइकिल को जप्त कर, आरोपी दिनेश सोनवानी, सिकंदर शाह एवं सनिता को गिरफ्तार कर तीनों को न्यायिक रिमाण्ड पर माननीय न्यायालय प्रस्तुत किया गया।

उपरोक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी बालको (साइबर सेल कोरबा) निरीक्षक सनत सोनवानी, सउनि ओम प्रकाश परिहार,अजय सोनवानी, चौकी प्रभारी रजगामार स उ नि अजय सिंह, प्र.आ. गुरुवार सिंह, सुरेश मणि सोनवानी , ममता साहू ,आर. प्रेमचंद साहू, साइबर सेल कोरबा सउनि राकेश सिंह, प्रआर० रामपाण्डेय, राजेश कंवर, चंदशेखर पांडे, आरक्षक डेमन ओगरे, प्रशांत सिंह, आलोक टोप्पो, रितेश शर्मा, सुशील यादव महिला आरक्षक रेणु टोप्पो की सराहनीय भूमिका रही।

Indian Business News

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!