WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
previous arrow
next arrow
छत्तीसगढ़

फोटोयुक्त निर्वाचक नामावलियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण को लेकर कलेक्टर ने ली राजनैतिक दलों की बैठक।

कोरबा (आई.बी.एन -24) आगामी लोकसभा निर्वाचन -2024 को ध्यान में रखते हुए भारत निर्वाचन आयोग नई दिल्ली एवं मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी छत्तीसगढ़ रायपुर के निर्देशानुसार जिले में फोटोयुक्त निर्वाचक नामावलियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण अर्हता तिथि 1 जनवरी 2024 के संबंध में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अजीत वसंत ने राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों की बैठक ली। कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में आयोजित बैठक में जिला निर्वाचन अधिकारी श्री वसंत ने बताया कि कोरबा संसदीय क्षेत्र अंतर्गत 04 जिलों के 08 विधानसभा आते हैं। जिनमें मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर जिले के दो विधानसभा, भरतपुर व मनेन्द्रगढ़, कोरिया जिले के बैकुण्ठपुर, कोरबा जिले के रामपुर, कोरबा, कटघोरा, पाली-तानाखार विधानसभा एवं गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिले का मरवाही विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं। उन्होंने बताया कि एकीकृत मतदाता सूची का प्रारम्भिक प्रकाशन 6 जनवरी 2024 को किया जाएगा। दावा-आपत्ति प्रस्तुत करने की तिथि 6 जनवरी से 22 जनवरी तक होगी। दावा-आपत्ति की अवधि में मतदाता सूची में नाम जुड़वाने हेतु 13 एवं 14 जनवरी को विशेष अभियान चलेगा। इसी प्रकार दावा आपत्ति का निराकरण 2 फरवरी तक और मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन 8 फरवरी 2024 को किया जाएगा।

जिले में 09 लाख 21 हजार 585 मतदाता।

विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण अर्हता कार्यक्रम अंतर्गत 01 जनवरी 2024 की स्थिति में कोरबा जिले के ही चारों विधानसभा अंतर्गत कुल 1080 मतदान केंद्र एवं मतदाताओं की कुल संख्या 9 लाख 21 हजार 585 है। जिसके अंतर्गत 04 लाख 60 हजार 531 पुरुष मतदाता एवं 04 लाख 61 हजार 016 महिला मतदाता हैं। जिले में थर्ड जेंडर मतदाताओं की संख्या 38 है। इसी प्रकार जिले में वरिष्ठ मतदाताओं की संख्या 9770, 18-19 वर्ष के नए मतदाता 30,028 व दिव्यांग मतदाता 5859 और सेवा मतदाताओं की संख्या 542 है। लोकसभा निर्वाचन हेतु अब तक 1500 नए मतदाता जुड़े हैं। इनमें 18-19 वर्ष के नए मतदाता की संख्या 291 है। कलेक्टर श्री वसंत ने कहा कि स्वतंत्र, निष्पक्ष, पारदर्शी एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन के लिए चुनाव कार्यक्रम घोषित होने के साथ ही आदर्श आचार संहिता प्रभावशील हो जाता है। उन्होंने राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों से कहा कि जिला प्रशासन का पूरा सहयोग आपके साथ है साथ ही आपसे भी पूर्ण सहयोग की अपेक्षा है। राजनैतिक दलों को मतदाता सूची की प्रतियां उपलब्ध कराने उप-जिला निर्वाचन अधिकारी को निर्देश दिए। इसके साथ ही पुनरीक्षण कार्यक्रम में सभी मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों को मतदान केंद्र स्तर पर बूथ लेवल एजेंट (बीएलए) की नियुक्ति कर सूची उपलब्ध कराने कहा। बैठक में अपर कलेक्टर श्री प्रदीप साहू, उप-जिला निर्वाचन अधिकारी सुश्री सीमा पात्रे सहित विभिन्न राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

Indian Business News

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!