WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
previous arrow
next arrow
छत्तीसगढ़

मुख्यमंत्री कन्या विवाह : लोकसभा चुनाव आचार संहिता से पूर्व पसान में 25 फरवरी को 260 बेटियों के हाथ होंगे पीले , मुख्यमंत्री साय होंगे शामिल,आयोजन की तैयारियों में जुटा प्रशासन …..

कोरबा(आई.बी.एन -24) निर्धन परिवार के अभिभावकों के लिए राहत भरी खबर है । मुख्यमंत्री कन्या सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत जिले में 260 निर्धन बेटियों का विवाह करने की कवायद शुरू कर दी गई है ,लोकसभा चुनाव के लिए मार्च के पहले पखवाड़े में संभावित आदर्श आचार संहिता के पूर्व 25 फरवरी को पसान में आयोजित कार्यक्रम के दौरान ही उक्त पुनीत आयोजन को संपन्न कराने की तैयारियों में जिला प्रशासन जुट गया है।

यहां बताना होगा कि निर्धन परिवार के लिए विवाह योग्य पुत्रियों का विवाह करना काफी मुश्किल भरा कदम होता है । खासकर आजकल के महंगे परिवेश में मजदूरी कर दो जून की रोटी का जुगाड़ कर जीवन यापन करने वाले परिवार को अपनी बिटिया के हाथ पीले करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है इन्हीं सब दिक्कतों को देखते हुए निर्धन परिवार की इस चिंता को मुक्त करने छत्तीसगढ़ सरकार ने सन 2004 से मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना शुरू की है । जिसके अंतर्गत छत्तीसगढ़ के मूल निवासी ऐसे निर्धन परिवार जिनके यहां 18 साल से अधिक आयु की विवाह योग्य कन्या है उनका विवाह सरकार अपने खर्चे पर संपन्न कराकर ऐसे परिवारों को चिंतामुक्त कर रही। बेटियों का भविष्य संवार रही।चालू वित्तीय वर्ष 2023 -24 में प्रति जोड़े निर्धारित राशि 50 हजार रुपए की दर से 260 जोड़ों के लिए 1 करोड़ 30 लाख रुपए का आबंटन प्राप्त हुआ है । लोकसभा चुनाव के लिए मार्च माह के पहले पखवाड़े में ही 10 से 12 मार्च के बीच आदर्श आचार संहिता लागू होने के आसार हैं ,25 फरवरी को मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय का कोरबा आगमन हो रहा है ,जिले के पोंडी उपरोड़ा ब्लॉक के सरहदी क्षेत्र पसान में जिला स्तरीय कार्यक्रम प्रस्तावित है। जिसे देखते हुए महिला एवं बाल विकास विभाग जिला प्रशासन कोरबा भी उक्त तिथि में ही मुख्यमंत्री कन्या विवाह का यह पुनीत आयोजन करने जा रही है। कलेक्टर अजीत वसंत के निर्देश के बाद डीपीओ प्रीति खोखर चखियार ने अल्पसमयावधि में उक्त वृहद स्तर के आयोजन को संपन्न कराने की तैयारी शुरु कर दी है। जिले में कुल 10 एकीकृत बाल विकास परियोजना हैं जिनके अधीन 2599 आंगनबाड़ी केंद्र हैं ,इनमें 2291 मुख्य एवं 308 मिनी आंगनबाड़ी केंद्र शामिल है। प्रत्येक परियोजना को 26 -26 जोड़ों का लक्ष्य आबंटित किया गया है। जिसके लिए 13 -13 लाख रुपए का बजट जिला से पुनराबँटित कर दिया गया है। परियोजना स्तर से

बेटियों को मिलेगा 21 हजार रुपए का चेक

मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत स्वीकृत 50 हजार रुपए प्रति जोड़े प्रोत्साहन राशि में से योजनांतर्गत लाभान्वित होने वाले जोडों को 21 हजार रुपए का चेक प्रदान किया जाएगा। शेष 29 हजार की राशि में वर वधु के कपड़े,श्रृंगार ,दैनिक जीवन के उपयोग में आने वाली सामाग्रियों की खरीदी के साथ साथ विवाह आयोजन का पूरा खर्च वहन किया जाएगा।

वर्जन

मंगाए हैं आवेदनमुख्यमंत्री कन्या सामूहिक विवाह योजना अंतर्गत चालू वित्तीय वर्ष में 260 जोड़ों का लक्ष्य मिला है । 25 फरवरी को माननीय मुख्यमंत्री के प्रस्तावित कार्यक्रम के दौरान

पसान में सामूहिक विवाह का आयोजन की तैयारी कर रहे। परियोजना स्तर पर समानुपातिक लक्ष्य आबंटित कर चिन्हांकित पात्र जोड़ों का विवाह संपन्न कराएंगे। इस पुनीत आयोजन में जन समुदाय की भागीदारी अपेक्षित है।

प्रीति खोखर चखियार , डीपीओ ,महिला एवं बाल विकास विभाग कोरबा(छग)

Indian Business News

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!