WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
previous arrow
next arrow
क्राइमछत्तीसगढ़

नौकरी लगवाने वाले ठगों से रहें सावधान, सरकारी नौकरी लगवाने के नाम पर 4 लोगों से 1139000 रुपए की धोखाधड़ी करने वाला अद्यतन अपराधी गिरफ्तार।

 

जिला-बस्तर जगदलपुर (आई बी एन -24) सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले आदतन आरोपी पर बस्तर पुलिस की कार्यवाही

आरोपी ने विभिन्न शासकीय पदो पर नौकरी लगाने के लिये पैसे लेकर किया गया धोखाधडी

04 लोगो से कुल 11,39,000/-रूपये की राशि लेकर किया गया है धोखाधड़ी

पूर्व में भी जिला बिलासपुर व शक्ति के अलग अलग थानो में आरोपी के खिलाफ धोखाधडी के 6 मामले दर्ज है

मामला सिटी कोतवाली जगदलपुर क्षेत्र का

24 घंटे के भीतर कोतवाली पुलिस ने की आरोपी पर खिलाफ कार्यवाही

जप्त संपत्ति- एक ब्रेजा कार कीमती-6,00000, एक सैमसंग मोबाईल कीमती-1,30,000,

एक वीवो कंपनी का मोबाईल-35,000 व एक एचपी कंपनी का लैपटाॅप कीमती-45,000 रूपये

जुमला कीमती-8,10,000 रूपये।

आरोपी- कमल सोनवानी पिता गांधीराम सोनवानी उम्र 36 साल नि0 डिपरापारा डोडगी रिस्दा, थाना मस्तुरी जिला-बिलासपुर (छ0ग0)

पुलिस अधीक्षक श्री शलभ कुमार सिन्हा के नेतृत्व में बस्तर पुलिस द्वारा आपराधिक तत्वों के विरूद्ध लगातार कार्यवाही किया जा रहा है। जिस तारतम्य में सरकारी नौकरी लगाने के नाम पर पैसे लेकर धोखाधडी करने वाले आरोपी को पकड़ने में बस्तर पुलिस को सफलता मिली है। ज्ञात हो प्रार्थिया कुमारी सेवंती कश्यप ने अपने साथी पंकज पाण्डे, तेजबहादुर दीवान तीनो ने आशा लता कुर्रे को रेगुलर नर्सिंग का नौकरी लगवा दुंगा कहकर 75000 रूपये फोनपे व नगदी रकम 45000 रूपये कुल 1,20,000 रूपये लिया है और पैसे मिलने के बाद कमल सोनवानी हम लोगो को नौकरी नहीं लगवाया, पैसे मांगने पर वापस नहीं कर रहा है, इस प्रकार हम सभी से कुल 11,39,000 रूपये लेकर धोखाधडी किया है, प्रार्थिया के रिपोर्ट पर आरोपी के खिलाफ पुलिस थाना कोतवाली में धोखाधडी 420 भादवि0 का अपराध पंजीबद्ध कर, अनुसंधान में लिया गया।

विवेचना:-

पुलिस अधीक्षक श्री शलभ कुमार सिन्हा के मार्गदर्शन एवं अति0 पुलिस अधीक्षक श्री माहेश्वर नाग एवं नगर पुलिस अधीक्षक श्री दिलिप कोसले के पर्यवेक्षण में थाना प्रभारी कोतवाली सुरेश जांगड़े के नेतृत्व में टीम गठित कर, आरोपी का पता तलाश किया गया। दौरान अनुसंधान के आरोपी को टीम द्वारा बिलासपुर से पता तलाश कर, हिरासत में लेकर पुछताछ करने पर कुमारी सेवंती कश्यप, पंकज पाण्डे, तेजबहादुर दीवान व आशालता कुर्रे से नौकरी लगाने के लिये 11,39,000 रू0 का राशि लेकर नौकरी नही लगा पाना और पैसो से एक ब्रेजा कार कीमती-6,00000रू. देकर फायनेंस कराना, एक सैमसंग कंपनी का मोबाईल कीमती-130000रू. एक वीवो कंपनी का मोबाईल कीमती-35000 रू.तथा एक एचपी कपंनी का लैपटाॅप कीमती-45000 रू. तथा बाकी के पैसे 3,29,000 रूपये को मुर्गी फार्म में लगाकर खर्च करना बताया। आरोपी द्वारा अपराध कबुल करना स्वीकार करने व एक कार,दो मोबाईल फोन एवं एक लैपटाॅप को पेश करने पर जप्त किया गया है। आरोपी को विधिवत् गिरफ्तार कर, न्यायिक रिमांड पर न्यायालय रवाना किया जा रहा है। पूर्व में भी आरोपी के खिलाफ जिला बिलासपुर सिविल लाईन, मस्तुरी एवं जिला शक्ति के कोतवाली थाना में कुल 06 धोखाधडी के मामले दर्ज है।

Indian Business News

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!