WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
previous arrow
next arrow
छत्तीसगढ़राजनीति

पाली तानाखार विधानसभा से गोंगपा मार सकती है बाजी , विधायक मोहित राम केरकेट्टा पर निष्क्रियता एवं कार्यकर्ताओं की उपेक्षा का आरोप।

कोरबा (आई.बी.एन -24) जिला में कांग्रेस पार्टी का गढ़ माने जाने वाला पाली तानाखार विधान सभा से काग्रेस पार्टी प्रथम स्थान पर, गोंगापा दूसरा एवं भाजपा तृतीय स्थान प्राप्त करते आ रहा है लेकिन इस बार विधान सभा चुनाव में कांग्रेस कार्यकर्ता ही नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। वर्तमान पाली तानाखार विधायक मोहित राम केरकेट्टा के खिलाफ कई प्रकार के बयान सामने आया है,पूरे छत्तीसगढ़ में एक ऐसा विधायक जिसके खिलाफ पार्टी के ही कार्यकर्ताओं ने बिगुल फूंका है पाली तानाखार विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस पार्टी संगठन, कार्यकर्ता और विधायक समर्थकों में घमासान मचा हुआ है। ठीक चुनाव से पूर्व कांग्रेस की अंदरूनी लड़ाई खुलकर सामने आई है, जिसे लेकर पार्टी के लोगों से टकराना पड़ेगा, जिसका वैसे तो सूत्रों की माने तो सीटिंग एमएलए का टिकट तय माना जा रहा है।

नव नियुक्त प्रदेश महासचिव प्रशांत मिश्रा ने आपत्ति करते हुए तत्काल कड़ी कार्रवाई चेतावनी दी और तात्कालीक रूप से आग तो बुझ गई, लेकिन मन का गुबार चुनाव तक रहा तो केरकेट्टा को चुनाव में अपने ही पार्टी के लोगों से खामियाजा प्रदेश कांग्रेस कमेटी को भुगतना पड़ेगा।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार टिकट लगभग तय ही माना जा रहा है, लेकिन केरकेट्टा पूरे छत्तीसगढ़ में एक मात्र ऐसा विधायक है, जिसके खिलाफ पार्टी के ही लोगों ने बिगुल फूंक दिया है और पांच साल तक कार्यकर्ताओं की उपेक्षा का आरोप लगता रहा है। इसके पूर्व भी एक पार्टी ब्लाक अध्यक्ष ने आरोप लगाया था, कि उन्होंने पाली क्षेत्र के विकास के लिए कई प्रस्ताव दिए लेकिन एक भी प्रस्ताव केरकेट्टा ने पास नहीं किया और ना ही उनकी मांगों पर ध्यान दिया। पांच साल तक एकतरफा चलो और दम्भ की राजनीति को अंजाम देने वाला केरकेट्टा चुनाव के एन वक्त पर पार्टी कार्यकर्ताओं के रोष का सामना करना पड़ रहा है।

उल्लेखनीय है कि पाली तानाखार विधानसभा में कांग्रेस का गढ़ माना जाता है ग्रामीण सहित कार्यकर्ताओं में नाराजगी पर कार्यकर्ताओं ने विधायक केरकेट्टा पर अधिक लोगों ने पाली तानाखार से पार्टी के लिए कई प्रकार का बयान सामने आया, तीन ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के दौर चल ही रहा है। कुछ दिन पूर्व ही बांगो में उत्पन्न हुई हैं, उसे आपसी बातचीत से सुलझा अध्यक्ष व कुछ पंचायत प्रतिनिधियों ने विधायक के खिलाफ गंभीर आरोप लगाते करते हुए ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्षों सभी सीटों पर जीत के लक्ष्य के साथ पार्टी हुए उन्हें पुन कांग्रेस प्रत्याशी बनाए जाने पर के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। पार्टी की जोरदार तैयारी चल रही है और इसमें पार्टी को नुकसान होने की बात कहते हुए अंदरूनी लड़ाई सतह पर आने के बाद सफलता मिलेगी। साथ ही उन्होंने हैं। जो कॉंग्रेस के इस सुरक्षित गढ के लिए पोड़ी अध्यक्ष अजमेर सिंह ने सोशल मीडिया के माध्यम से विधायक के खिलाफ जहर उगला था। वहीं पार्टी की ओर से 2 दर्जन से विधायक केरकेट्टा के समर्थकों ने पलटवार ब्लाक अध्यक्षों को तलब किया।

Indian Business News

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!