WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
previous arrow
next arrow
क्राइमछत्तीसगढ़

उरगा एनएच ,हाउसिंग बोर्ड की कॉलोनी से लगे करोड़ों की शासकीय भूभाग पर बेजा कब्जों की आई बाढ़, स्थानीय लोगों ने प्रशासन से की शिकायत,रातों रात बन रहे मकान क्या नपेंगे जिम्मेदार ।

कोरबा (आई.बी.एन -24)यहां के उरगा इलाके में एक नई सड़क के स्वीकृत होते ही खाली पड़े शासकीय भूभाग पर बेजा कब्ज़ा करने वालों की भीड़ लग गई है। यहां हाउसिंग बोर्ड द्वारा बनाई गई आवासीय कॉलोनी की दीवार से लगी हुई जमीन पर पिछले कुछ दिनों के भीतर ही बड़ी संख्या में निर्माण कार्य हो गए हैं। इस भूभाग पर कई मकान खड़े हो गए हैं, वहीं अनेक निर्माण कार्य के लिए भारी मात्रा में सामग्रियां गिराई गई हैं।

 

इस भूभाग पर नजर डालें तो यहां पर बाकायदा मशीन चलाकर जमीन को समतल किया गया है, साथ ही भूखंडों को बांटकर निर्माण कार्य किया जा रहा है।यहां सड़क के किनारे से लेकर दूर तक लोगों ने जमीन पर कब्ज़ा किया हुआ है।
बताया जा रहा है कि उरगा के सरपंच की शह पर यह कार्य किया जा रहा है। साथ ही यह बात भी सामने आयी है कि सरपंच द्वारा सभी बेजा कब्जाधारियों से रूपये भी वसूले गए हैं।
बड़े पैमाने पर हो रहे इस अतिक्रमण की शिकायत हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी के निवासियों द्वारा कोरबा तहसीलदार से की गई है। इनका कहना है कि इस अतिक्रमण से सरकार की बेशकीमती जमीन चली जाएगी और आगे चलकर यहां असामाजिक तत्वों का डेरा बन जायेगा। कॉलोनी के लोगों ने मांग की है कि इस अतिक्रमण को तत्काल रोका जाये। इस अतिक्रमण की शिकायत कलेक्टर और मुख्यमंत्री कार्यालय में भी की गई है।
गौरतलब है कि कोरबा जिले के नए कलेक्टर ने कुछ दिनों पूर्व ही अधिकारियों की बैठक में बेजा कब्जों के खिलाफ सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए हैं। बावजूद इसके उरगा में खुले आम हो रहे अतिक्रमण पर गांव के राजस्व अमले की अनदेखी उनकी मिलीभगत की ओर इशारा कर रही है।

Indian Business News

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!