WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
previous arrow
next arrow
छत्तीसगढ़

भूविस्थापितों द्वारा एनटीपीसी कोरबा से नौकरी व बचे जमीन की मुआवजा व क्षतिपूर्ति की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल करते हुए 288 दिन अर्थात 9 माह से अधिक हो रहे हैं अभी तक निराकरण नहीं हुए है।

कोरबा (आई.बी.एन -24) एनटीपीसी कोरबा के खिलाफ आम सूचना अनुसार नौकरी तथा अधिग्रहण के समय, बचे जमीन की मुआवजा व क्षतिपूर्ति की मांग को लेकर दिनांक 22 अप्रैल 2023 से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर ग्राम चारपारा के 03 भूविस्थापित विनय कुमार कैवर्त, रामकृष्ण केवट, राकेश कुमार केवट अपने परिवार के सदस्यों के साथ, पहले भीषण गर्मी में, फिर बरसात में और अब ठंड में तानसेन चौक कोरबा में बैठे हुए 288 दिन अर्थात 9 माह से अधिक हो रहे है अभी तक भूविस्थापितो की समस्या का निराकरण नहीं हुआ है । दिनांक 01.02.2024 को श्रीमान कलेक्टर से भूविस्थापितो की मांग के संबंध में निराकरण के लिए बनीं समिति के संबंध में पत्र प्रेषित किया गया जिसमें शिकायत की गई अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे भूविस्थापितो के निराकरण के लिए समिति बनी अध्यक्ष व सदस्य के जगह स्वतंत्र समिति के द्वारा करायी जाय । शिकायत के तौर पर 9 माह से देख रहे मामले को प्रशासनिक अधिकारी समिति के अध्यक्ष श्री दिनेश नाग अपर कलेक्टर, कोरबा तथा भूविस्थापितो की जमीन जांच के संबंध में सुश्री रिचा सिंह, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कटघोरा व समिति के सदस्य और तहसीलदार समिति के सदस्य द्वारा अभी तक न जमीन की जांच करवा पाए हैं और न ही निराकरण हो पाये जो कि भूविस्थापितो को गुमराह और परेशान कर रहे बैठक या समिति के नाम से प्रताड़ित कर रहे हैं इसके अलावा समिति के सदस्य एनटीपीसी प्रबंधन कोरबा बैठक में संबंधित दस्तावेज न लाकर बैठक से दस्तावेज या जानकारी नहीं है कह कर चले जाते हैं जबकि एनटीपीसी कोरबा के खिलाफ भूविस्थापितो द्वारा अधिग्रहित जमीन से नौकरी व बचे हुए जमीन की मुआवजा और क्षतिपूर्ति की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल कर रहे हैं एनटीपीसी कोरबा को समिति का सदस्य बनाए गए हैं इस समिति द्वारा इस संबंध में दिनांक 29.01.2024 को बैठक रखी गई और अब 26.02.2024 को रखे हैं जिसमें भूविस्थापित शामिल नहीं है और निराकरण का कोई पता नहीं है इसलिए जिला कलेक्टर कोरबा महोदय को निवेदन किया है इस मामले को निष्पक्ष स्वतंत्र समिति के माध्यम से करायी जाय जिसमें भूविस्थापितो और एनटीपीसी कोरबा प्रबंधन से पूछताछ कर और दस्तावेजों के आधार पर निराकरण ,जल्द से जल्द करायी जाय। एनटीपीसी कोरबा भूविस्थापित अनिश्चितकालीन हड़ताल पर शांति पूर्वक बैठे हुए हैं, जब तक मांग का निराकरण नहीं होती है तब तक अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी रहेगी।

Indian Business News

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!