WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
WhatsApp Image 2024-03-22 at 3.00.41 PM
previous arrow
next arrow
Uncategorized

अतिथि शिक्षकों ने बोनस अंक लेने से किया इंकार ,डीईओ को ज्ञापन सौंप कहा -नियमितीकरण कर वादा निभाए सरकार।

कोरबा (आई.बी.एन -24) शासकीय हाईस्कूल हायर सेकेंडरी स्कूलों में 2017 -18 से अतिथि शिक्षक (व्याख्याता )के पदों पर सेवाएं दे रहे आदिवासी बाहुल्य कोरबा जिले के समस्त 60 अतिथि शिक्षकों ने राज्य शासन घोषित 2 बोनस अंक लिए जाने से इंकार कर नियमितीकरण की मांग मुखर कर दी है।आक्रोशित विद्यामितानों ने गुरुवार को डीईओ कार्यालय में ज्ञापन सौंप राज्य शासन पर चुनावी जन घोषणा पत्र में वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए संविलियन की मांग की है। चुनावी वर्ष में शिक्षक वर्गों के हड़ताल ने विभाग की चिंता बढ़ा दी है।

ऊल्लेखनीय है कि राज्य शासन के आदेशानुसार प्रदेश में शिक्षकों के 12 हजार 489 पदों पर भर्ती की जा रही है। इसमें शिक्षा विभाग के स्कूलों में कार्यरत अतिथि शिक्षक को प्रत्येक वर्ष के लिए 2 बोनस अंक तथा अधिकतम 10 अंक संचालक लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा प्रमाण पत्र जारी किए जाने पर दिए जाने के निर्देश दिए गए हैं। लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा इस संबंध में अतिथि शिक्षकों को प्रमाण पत्र जारी करने की प्रक्रिया निर्धारित करते हुए जिला शिक्षा अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही करने कहा है। यह भी स्पष्ट किया गया है कि किसी भी शैक्षणिक सत्र में एक वर्ष से कम अवधि के अध्यापन के लिए शून्य अंक देय होगा। एक पूर्ण शैक्षणिक सत्र के अध्यापन के लिए 2 अंक देय होगा।

लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा जिला शिक्षा अधिकारियों कोे प्रमाण पत्र जारी करने की प्रक्रिया का उल्लेख करते हुए कहा है कि निर्धारित प्रक्रिया अनुुसार प्रमाण पत्र उन्हीं अभ्यर्थियों को जारी किया जाए, जिन्हें छत्तीसगढ़ शासन स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा 24 जून 2019 को जारी पत्र अनुसार अतिथि शिक्षक के रूप में शासकीय शालाओं में अध्ययन हेतु व्यवस्था की गई है। इसके लिए आवेदक को अपनी कार्यावधि की स्वघोषणा पत्र के साथ आवेदन जिला शिक्षा अधिकारी को प्रस्तुत करना होगा। आवेदनकर्ता आवेदन पत्र में व्यापम पोर्टल पर बनाई गई अपनी इनरोलमेंट नंबर एवं व्यापम में पंजीकृत अपना मोबाईल नंबर अंकित करेंगे। संबंधित जिला शिक्षा अधिकारी प्राप्त आवेदनों का संबंधित प्राचार्य के प्रमाणीकरण उपरांत, व्यक्तिगत रूप से संतुष्ट होने पर निर्धारित प्रारूप में प्रमाण पत्र, विशेष वाहक के माध्यम से लोक शिक्षण संचालनालय भिजवाएंगे, यहां से हस्ताक्षर होने के बाद प्रमाण पत्र अपने कार्यालय से संबंधित को वितरित किया जाएगा।कोरबा जिले में 60 अतिथि शिक्षक हैं जो बोनस अंक से लाभान्वित होंगे।लेकिन गुरुवार को जिले के शासकीय हाईस्कूल हायर सेकेंडरी स्कूलों में 2017 -18 से अतिथि शिक्षक (व्याख्याता )के पदों पर सेवाएं दे रहे आदिवासी बाहुल्य कोरबा जिले के समस्त 60 अतिथि शिक्षकों ने राज्य शासन घोषित 2 बोनस अंक लिए जाने से इंकार कर नियमितीकरण की मांग मुखर कर दी है।आक्रोशित विद्यामितानों ने गुरुवार को डीईओ कार्यालय में ज्ञापन सौंप राज्य शासन पर चुनावी जन घोषणा पत्र में वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए संविलियन की मांग की है। विद्यामितान अतिथि शिक्षक कल्याण संघ के जिलाध्यक्ष चैन सिंह यादव ,नम्रता ने कहा कि आज का यह ज्ञापन केवल सांकेतिक विरोध प्रदर्शन है आने वाले समय में मांग पूरी नहीं होने पर हम इस बेमियादी प्रदर्शन में तब्दील कर सकते हैं। नियमितीकरण की आश में हमारे जिले में 30 प्रदेश में 300 से अधिक साथी कर्मचारी बाहर हो चुके हैं जिसे हम पर प्रभावित की सूची में रखे हैं। अतः पूरे प्रदेश के 1735 विद्या मितानों को सरकार को नियमितीकरण कर वादा निभाना चाहिए। बहरहाल चुनावी वर्ष में शिक्षक वर्गों के हड़ताल ने विभाग की चिंता बढ़ा दी है।

Indian Business News

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!