क्राइमछत्तीसगढ़राजनीति

आबकारी मुख्य आरक्षक व स्टॉफ पर जनपद सदस्य ने की दुर्व्यवहार की शिकायत ,7 को जटगा-पेण्ड्रा रोड बरबसपुर में चक्काजाम की चेतावनी।

कोरबा (आई.बी.एन -24) जिले के पोड़ी-उपरोड़ा जनपद पंचायत क्षेत्रांतर्गत क्रमांक-16 रावा के जनपद सदस्य रविन्द्र प्रताप सिंह ने आबकारी विभाग के मुख्य आरक्षक अजय तिवारी व उनके स्टाफ के द्वारा दुर्व्यवहार करने की शिकायत कर कार्यवाही की मांग की है। कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते हुए कहा गया है कि कार्यवाही न होने पर 7 सितंबर को जटगा-पेण्ड्रा रोड बरबसपुर में प्रात: 10 बजे चक्काजाम किया जाएगा।

जनपद सदस्य रविन्द्र प्रताप सिंह का आरोप है कि 21 अगस्त को रात करीब 9 बजे ग्राम बरबसपुर में अवैध शराब पकडऩे के लिए आबकारी कर्मचारी अजय तिवारी व उनके स्टाफ पहुंचे थे। गांव के 2 व्यक्तियों को पकडक़र पैसा की मांग किया गया। इसकी जानकारी होने पर जब विरोध किया तो अजय तिवारी व स्टाफ के द्वारा जनपद सदस्य के साथ दुव्यर्वहार करते हुए मारपीट की गई और अपने स्कार्पियो में जबरन घसीटकर बिठा लिए।

ग्रामीणों व परिजनों द्वारा विरोध करने पर उन्हें छोड़ा गया। जनप्रतिनिधि के साथ इस तरह के दुव्र्यवहार को कुछ लोगों ने अपने मोबाइल में कैद कर लिया और सोशल मीडिया पर वायरल भी हुआ लेकिन आज तक अजय तिवारी व स्टाफ के विरूद्ध कोई कार्यवाही नहीं की गई। घटना से ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है। मांग की गई है कि अजय तिवारी को कोरबा जिला से हटाया जाए। आबकारी विभाग के मनमाने छापामारी एवं अवैध वसूली पूरी तरह बंद हो। विभाग द्वारा पंचायत स्तर पर छापा मारने के लिए सरपंच की अनुमति लेना जरूरी है क्योंकि कोरबा जिले में पेसा एक्ट लागू है और सभी अधिकार ग्राम सभा को दिया गया है। कलेक्टर सहित संबंधित अधिकारियों से मांग की गई है कि इस तरह का निंदनीय व्यवहार जनप्रतिनिधियों के साथ नहीं होना चाहिए। 5 सितंबर तक अजय तिवारी व स्टाफ पर कार्यवाही नहीं हुई तो 7 सितंबर को सरपंच, पंच, जनपद व जिला पंचायत सदस्य व आम नागरिक चक्काजाम करेंगे जिसकी जवाबदारी जिला प्रशासन की होगी।

Indian Business News

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!