Uncategorized

नगर पालिका कटघोरा अध्यक्ष रतन मित्तल के खिलाफ पार्षदों ने खोला मोर्चा, 08 पार्षदों ने लाया अविश्वास प्रस्ताव।

कोरबा (आई.बी.एन -24) कटघोरा नगर पालिका में अभी चुनाव को लगभग 1 वर्ष बचा है लेकिन कटघोरा नगर पालिका में इस समय राजनीतिक सियासत अपने चरम पर है. यहां के भारतीय जनता पार्टी (BJP) के 7 पार्षदों समेत एक अन्य पार्षद ने नगर पालिका अध्यक्ष रतन मित्तल के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. सोमवार को 8 पार्षद जिला कलेक्टर के मिलने पहुंचे. इस दौरान पार्षदों ने कलेक्टर को अविश्वास प्रस्ताव के लिए आवेदन जमा किया गया है।

नगर पालिका अध्यक्ष रतन मित्तल

भारतीय जनता पार्टी के 7 पार्षद सहित 1 अन्य पार्षद ने मिलकर कांग्रेस पार्टी के नगर पालिका अध्यक्ष रतन मित्तल पर सीधा आरोप लगाते हुए अविश्वास प्रस्ताव में बताया कि नगर पालिका अध्यक्ष रतन मित्तल द्वारा छत्तीसगढ़ सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं को रोकने के साथ उन पर मनमानी करने का आरोप लगाया है।

और बताया कि शासन के पैसे का लगातार अध्यक्ष द्वारा दुरुपयोग करते हुए नगर के विकास में बाधा उत्पन्न किया जा रहा है. सभी 8 पार्षदों के द्वारा नगर पालिका अध्यक्ष के विरुद्ध छत्तीसगढ़ अधिनियम 1961 की धारा 43 (क) के अंतर्गत अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है।

नगर पालिका परिषद कटघोरा में बीजेपी के 7 पार्षदों समेत 1 अन्य पार्षद द्वारा नगर पालिका अध्यक्ष रतन मित्तल के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लगाने से कटघोरा नगर में राजनीतिक सियासत गरमा गई है,अविश्वास प्रस्ताव लाने से नगर में यह चर्चा का विषय बन गया है. अब देखने वाली बात होगी कि क्या बीजेपी द्वारा लाये गए अविश्वास प्रस्ताव पर क्या परिवर्तन होगा यह अपने आप मे लोगों के लिए एक प्रश्न बनकर रह गया है।

Indian Business News

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!